ईश्वर (God)

first image

 हमारे मनमै अक्सर ये प्रश्न उठता है की ईश्वर कौन है ? क्या हक़ीक़त में ईश्वर है जो इस संसार को चला रहा है ? इस संसार को किसने बनाया ? क्या किसी ने कभी ईश्वर को कही देखा है या उनका अनुभव किआ है ? क्या इस पूर्ण संसार को ईश्वर चला रहा है ?क्या ईश्वर उनसे की हुई हमारी प्राथना का हमे जवाब देता है ? क्या  ईश्वर हमारे दुःख दर्द दूर कर सकते है ? क्या ईश्वर मे किसी असम्भव कार्य को संभव करने की कोई शक्ति है ? क्या कोई अदृश्य शक्ति है इत्यादि 
     अक्सर ऐसा होता है की कभी कभी किन्ही परेशानियों से हमारा कोई जरूरी काम समय पर पूर्ण नहीं हो पाता था जैसे हम चाहते थे वो कार्य उस प्रकार किन्ही कारणों से नहीं हो पाता तो हम बहोत दुखी हो जाते है परेशान हो जाते है ! उस समय अपने काम को पूरा होते जब हम देखते है तो हमारी ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं रहता है और हमारी आँखों मे ख़ुशी के आँशु झलक जाते है। 
   एक ऐसा कार्य जिसे कुछ समय पहले किन्ही परेशानियों मे पूरा होना असंभव सा लग रहा था और एक अदृस्य शक्ति उस कार्य को पूर्ण कर देती है । तो उस समय हमारा उस इस्वर पर विश्वास और ज्यादा बढ़ जाता है । हमने ईश्वर को नहीं देखा की ईश्वर कौन है ? कहा रहता है ? किन्तु उस समय हमने उसे महसूस किआ उसके चमत्कार को होते हुए देखा । इस लिए हमारा मन कहता है की है ईश्वर है यदि वो नहीं है तो ये पेड़ पौधे फूल जिसने बनाये इसमे सुंदर सुंदर रंग किसने भरे ? इस संसार को किसने बनाया ये ईश्वर ही है जो संसार को चला रहा है । हमारी प्राथना का हमे जवाब देता है । हमारे सभी कार्य समय समय पर पूर्ण करने मे हमारी मदद करता है । ईश्वर सर्वसक्तिमान है 

0 Comments sort by oldest

Leave a Comment